प्रतिवेदन

राजभाषा कार्यान्वयन समिति, केंद्रीय विद्यालय, नामरूप

 

केंद्रीय विद्यालय नामरूप में राजभाषा कार्यान्वयन समिति की तिमाही बैठक प्राचार्य महोदया की अध्यक्षता में आयोजित की जाती है ,जिसमे राजभाषा अधिनियमों का पूर्ण रूपेण पालन करने का प्रयास किया जाता है | केंद्रीय विद्यालय नामरूप, दुलियाजान नराकास का सदस्य भी है | दुलियाजान नराकास द्वारा समय-समय पर बैठक आयोजित की जाती है जिसमे केंद्रीय विद्यालय नामरूप,की शत प्रतिशत उपस्थिति रहती है |नराकास द्वारा दिए गए सुझावों का अनुपालन किया जाता है |

हिन्दी तिमाही रिपोर्ट निश्चित समय  पर केन्द्रीय विद्यालय संगठन, गुवाहाटी  संभाग को मेल द्वारा तिमाही समाप्ति के उपरांत निर्धारित तिथि को भेजी जाती है ।शत प्रतिशत कार्यालयी कार्य हिन्दी में करने का प्रयास किया जा रहा है | केन्द्रीय विद्यालय के सभी कर्मियों को हिन्दी का कार्यसाधक ज्ञान अत्यावश्यक है।अधिकांश कर्मियों को हिन्दी का कार्यसाधक ज्ञान है |कार्यालय में अधिकांश फाइल, रजिस्टर आदि में हिन्दी में नाम लिखा गया है । सरकारी कागजात, संविदाएँ,  विज्ञापन, टेंडर नोटिस , टेंडर फॉर्म,निमंत्रण पत्र  द्विभाषी रूप में ही जारी की जाती है । हर प्रकार के बैनर, बोर्ड ,विभागो के नाम, कक्षा का नाम, सूचना पट्ट, रबड़ की मुहरे, उपस्थिति पंजिका पर  नाम द्विभाषी रूप में है| लिफाफो पर पते, आवेदन-पत्र, अवकाश, अग्रिम राशि , बैठको की कार्यसूची कार्यवृत आदि द्विभाषी  है |हिन्दी रजिस्टर, डायरी,व प्रेषण बही  अलग-अलग है | पुस्तकालय में पुस्तकों पर व्यय की जाने वाली राशि का ५०% राशि हिन्दी माध्यम की पुस्तकों पर व्यय किया गाया है ।विज्ञापन आदि पर भी व्यय की जाने वाली राशि का ५०% राशि हिन्दी विज्ञापन पर व्यय किया गया है | प्राचार्य द्वारा  हिन्दी में टिप्पणी लिखी जाती है । अग्रसारित पत्र (कवरिंग लेटर) हिन्दी में लिखा जाता है । राजभाषा संबंधित आदेशो का संकलन अलग फाइल में किया जाता है ।